August 12, 2022
Alwar, Rajasthan, India
Rajasthan Geography

Industry of Rajasthan: राजस्थान में उद्योग

Industry of Rajasthan

Industry of Rajasthan (राजस्थान में उद्योग)

लघु एवं कुटीर उद्योग ( Small and cottage industries )

प्रदेश का पहला राईस क्लस्टर बूंदी में बनाया जा रहा है।

हाथ से कोठा डोरिया उत्पाद बनाने वालो के लिए जी.आई.पेटेंट लागु किया गया है।

राजस्थान लघु उद्योग निगम द्वारा राज्य की लुप्त हो रही फड़ चित्रकला के पुनरुत्थान के लिए शाहपुरा (भीलवाड़ा) में संचालित किया जा रहा है।

Industry of Rajasthan

राज्य में ग्रामीण अकृषि क्षेत्र – हैण्डलूम , हस्तशिल्प व कृषि / ऊन / खनिज आधारित उद्योगों के विकास को प्रोत्साहन देने हेतु रुडा ( RUDA) एजेंसी का गठन किया।

लकड़ी एवं ऊट की खाल पर सुनहरी नक्काशी व चित्रकला (उस्ताकला) हेतु राजस्थान लघु उद्योग निगम द्वारा प्रशिक्षण केंद्र बीकानेर में संचालित किया जा रहा है।

तालछापर हस्तशिल्प उत्पाद परियोजना चुरू अन्तराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त डिजाईनर बी.बी. रसेल परियोजना से जुड़ी हुयी है।

भरतपुर सरसों तेल उद्योग के लिए प्रसिध्द है।

1955 राजस्थान में खादी एवं ग्राम उद्योग के विकास हेतु खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड की स्थापना की गयी।

टोंक में राज्य का बीडी उद्योग का प्रमुख केंद्र है।

राजस्थान में कृषिगत ओजारों को बनाने के लघु कारखाना गजसिंहपुर (गंगानगर ) में स्थित है।

जयपुर रत्न की कटाई व जवाहरात के लिए प्रसिद्ध है।

महात्मा गांधी बुनकर बीमा योजना का शुभारंम्भ 19 सितम्बर 2005 को हुआ।

बलाहेडी में पीतल के बर्तन पर नक्काशी का कलस्टर विकसित किया गया।

हाट बाजार उधम प्रोत्साहन संस्थान द्वारा स्थापित किये गए है।

बकरी के बालो से जट पट्टियों की बुनाई का  मुख्य केंद्र जसोल बाड़मेर में स्थापित किया गया है।

राजस्थान का रेशम कीट पालन (सेरीकल्चर) उद्योग बासवाड़ा में स्थित है।‘आंगल’ व ‘कागसा’ दरी निर्माण में काम में आने वाले खास उपकरण है।

प्रतापगढ तरल हिंग के लिए प्रसिद्ध है।

सवाई माधोपुर – भरतपुर खस व इत्र उद्योग के लिए प्रसिद्द है।

राजस्थान में स्थापित देशी-विदेशी संस्थान ( Domestic and foreign institutions established in Rajasthan )

चंबल फर्टिलाइजर्स ( भारत ):-  निजी क्षेत्र में भारत की सबसे बड़ी उर्वरक कंपनी में से एक है, कोटा में उर्वरक इकाई की स्थापना की है।

हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड, (भारत):-  हीरो मोटो कॉर्प लिमिटेड(HMPCL) भारत की सबसे बड़ी दुपहिया वाहन निर्माता कंपनी है, जो अमेरिका की पॉलारिस इडस्ट्रीज के साथ राजस्थान में एक संयुक्त उपक्रम(JV) द्वारा पर्सनल फोर व्हीलर वाहन का उत्पादन करने जा रही है।

होंडा कार्स ( जापान):- यह बहुराष्ट्रीय कार निर्माता कंपनी विश्व की फॉर्च्यून 500 कंपनियों में से एक है।

होंडा मोटरसाइकिल एवं स्कूटर इंडि. लि. ( जापान ) – यह बहुराष्ट्रीय कंपनी विश्व की सबसे बड़ी मोटरसाइकिल निर्माता कंपनीयों में से एक है, इसके द्वारा दुपहिया वाहनों का निर्माण किया जा रहा है।

लाफार्ज इंडिया ( फ्रांस ) –  इस बहुराष्ट्रीय कंपनी ने चित्तौड़ के बावरिया ग्राम में सीमेंट प्लांट स्थापित किया है।

सेंड गोबेन इंडिया: (ब्रिटेन):  इसने राज्य में सबसे बड़ी फ्लोट ग्लास की इकाई की स्थापना की है।

जेसीबी: (ब्रिटेन):- यह कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट क्षेत्र में विश्व की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है जो अपना चौथा विश्व स्तरीय उत्पादन संयंत्र जयपुर में स्थापित कर रही है।

बॉस लिमिटेड ( जर्मनी ):-  बहुराष्ट्रीय इंजीनियरिंग एवं ऑटो कंपोनेंट निर्माता कंपनी जिसका चौथा संयंत्र जयपुर में 1999 में स्थापित किया है।

Leave feedback about this

  • Quality
  • Price
  • Service

PROS

+
Add Field

CONS

+
Add Field
Choose Image
Choose Video