UGC विश्वविद्यालयों

वैश्विक महामारी कोरोना के चलते विश्वविद्यालयों की परीक्षा एवं अकादमिक सत्र के लिए नई गाइडलाइन जारी की जाएगी। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के अध्यक्ष प्रो. डीपी सिंह ने अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के प्रतिनिधिमंडल के साथ ऑनलाइन बैठक में गुरुवार को यह बात कही। प्रो सिंह ने कहा कि इस पर एक कमेटी का गठन किया गया है तथा शीघ्र परीक्षा एवं अकादमिक सत्र के लिए नई गाइडलाइन जारी की जाएंगी।

माग

महासंघ के अध्यक्ष एवं राजस्थान विश्वविद्यालय के भूतपूर्व कुलपति प्रो. जे पी सिंघल ने बताया कि कोरोना महामारी की बदलती परिस्थितियों के मद्देनजर महासंघ ने विश्वविद्यालयों की परीक्षा और अकादमिक सत्र के बारे में नई गाइडलाइन जारी करने की मांग की।  प्रो. सिंघल ने बताया कि निजी शिक्षा संस्थानों के शिक्षकों को कोरोना काल में पूरा वेतन देने एवं उच्च शिक्षा संस्थानों में आईसीएमआर की गाइडलाइन के अनुसार हाइजीन एवं सैनिटाइजिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए निर्देश जारी करने की मांग की गई। जिस पर यूजीसी अध्यक्ष ने समुचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

UGC विश्वविद्यालयों

इस दौरान कोरोना समय में चल रहे विभिन्न ऑनलाइन शैक्षिक गतिविधियों, वेबीनार तथा फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के बारे में स्पष्ट दिशा निर्देश जारी करने, उच्च शिक्षा संस्थानों के शिक्षकों में विद्यार्थियों विशेष तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों के लिए ऑनलाइन शिक्षा के लिए समुचित संरचना एवं इंटरनेट डाटा की व्यवस्था करने तथा शिक्षकों की भर्ती एवं पदोन्नति के संबंध में जारी यूजीसी रेगुलेशन 2018 की विसंगतियों को दूर करने पर विस्तृत विचार विमर्श किया गया। 

प्रो. सिंह ने महासंघ को आश्वस्त किया कि शिक्षा और शिक्षकों की समस्याओं को लेकर यूजीसी गंभीर है तथा महासंघ के बिंदुओं पर अधिकारियों के साथ चर्चा करके शीघ्र ही निर्णय लिया जाएगा।  

1 q w e r t y u a s d g h d s e s f d e z f s s s s s s s http://UGC विश्वविद्यालयों