Category

Uncategorized

May 1, 2020

Psychology important Questions in hindi for REET 1&2

Psychology important Questions

Q. 1 व्यक्तित्व और बुद्धि में वंशानुक्रम की…….

(A) नाम मात्र की भूमिका होती है!

(B) महत्वपूर्ण भूमिका होती है !

(C) आकर्षक भूमिका होती है !

(D) अपूर्व नुमये भूमिका होती है !

उत्तर- (a)

Q. 2 सुमेलित करो

a. शैशवावस्था 1. सीखने का आदर्श काल

b. बाल्यावस्था 2. जीवन का कठिन काल

c. किशोरावस्था 3. जीवन का अनोखा काल

d. शैशवावस्था 4. जीवन का सबसे महत्वपूर्ण कॉल

उत्तर- a-4 b-3 c-2 d-1

Q. 3 शारीरिक विकास का क्षेत्र है !

(A) हड्डियों में वृद्धि

(B) मांसपेशियों का विकास

(C) स्नायु मंडल का विकास

(D) लंबाई बढ़ना

त्तर- A B C D

Q. 4 सुमेलित कीजिए

a. पियाजे 1. भाषा विकास का सिद्धांत

b. चोम्स्की 2 . मनो लैंगिक विकास का सिद्धांत

c. कोहल बर्ग 3. संज्ञानात्मक विकास का सिद्धांत

d. फ्राइड 4. नैतिक विकास का सिद्धांत

उत्तर- a-3 b-1 c-4 d-2

Q. 5 सुमेलित करो

a. आत्म गौरव 1. स्वामित्व की भावना

b. योजना अन्वेषण 2. क्रोध

c. युयुत्सु 3 भूख

d. संग्रहण 4. श्रेष्ठता की भावना

उत्तर- a-4 b-3 c- 2 d-1

Q. 6 बालक प्रथम 5 वर्षों में बाद के 12 वर्षों का दुगना सीख लेता है !

(A) गैसल

(B) कुप्पूस्वामी

(C) स्ट्रांग

(D) वाटसन

उत्तर- (a)

Q. 7

समुद्र में तैरते हिमखंड से मन की तुलना की…..

(A) फ्राइड

(B) गैसल

(C) गैरेट

(D) कुप्पूस्वामी

उत्तर- (a)

Q.8

Psychology important QuestionsPsychology important Questions

Psychology important Questions in hindi for REET 1&2

१ २३ ४ ५ ६ ७ 8 9 10 11 12 १३ १४ १५ १६ १७ १८ 19 20 २१ २२ २३ २४ २५ २६ २७ २८ २९ ३० ३१ ३२ ३३ ३४ 35 ३६ ३७ ३८ ३९ 40 ४१ ४२ ४३ ४४ ४५ ४६ ४७ ४८ ४९ ५० ५१ ५२ ५३ ५४ ५५ ५६ ५७ ५८ ५९ ६० ६१ ६२ ६३ ६४ ६५ ६७ ६६ ६८ ६९ ७०

May 1, 2020

विशेषण क्या होता हें इसके बारे में जाने ?

विशेषण का शाब्दिक अर्थ है विशेषता जो शब्द संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बतलाता है वह विशेषण कहलाते हैं

जो शब्द संज्ञा या सर्वनाम की व्याप्ति मर्यादित व करते हैं वे विशे षण कहलाते हैं

विशेषण गुण को कहा जाता है

विशेषण में संख्या को कहा जाता है

विशे षण परिणाम को कहा जाता है

उदाहरण

मैदान आयताकार है

पहलवान 5 लीटर दूध पीता है

नेहा अच्छा खेलती है

विशेष्य

जिस की विशेषता बताई जाए उसे विशेष से कहा जाता है

जैसे मोर सुंदर है

वह अच्छा गाता है

उद्देश्य विशेषण

जब वाक्य में विशेष से से पूर्व विशे षण आ जाए तो उसे उद्देश्य विशे षण कहा जाता है

जैसे उसका नीला कोट है

समुद्र का खारा पानी है

उसका हरा दुपट्टा है

विधेय विशेषण

जब वाक्य में विशेष्य के बाद विशे षण आता है तो उसे विधेय विशे षण कहा जाता है

उदाहरण

स्कूल का मैदान बड़ा है

समुद्र का पानी नीला है

प्रविशेषण

जो शब्द विशे षण की भी विशेषता बतलाता है वह प्रविशेषण कहलाते हैं

उदाहरण

आम अत्यंत खट्टा है

वह बहुत चालाक है

विशेषण के चार प्रकार होते हैंविशेषण क्या होता हेंविशेषण क्या होता हें

गुणवाचक विशेषण

जो विशे षण विशेष्य की विशेषताओं को रूप रंग आकार दिशा आदि के रूप में बतलाता है

गुणवाचक विशे षण विशेष्य को गुण के रूप में बतलाता है

उदाहरण

आज दिन गर्म है

उसकी कमीज नीली है

पहचान

रूप– सुंदर कुरूप

आकार बड़ा छोटा

रंग काला नीला सफेद

दशा स्वास्थ्य बीमा र

अवस्था अमीर गरीब

यदि किसी विशे षण को थोड़ा कम किया जाता है तो उसके साथ में साथ जोड़ देते हैं

जैसे छोटा सा हल्का सा बड़ा सा काला सा

संख्यावाचक विशेषण

जो विशे षण विशेष्य की विशेषता को संख्या के रूप में बतलाता है उसे संख्यावाचक विशे षण कहा जाता है

जैसे एक दो दस हजारों

उदाहरण

राधा पांचवी मंजिल पर रहती है

बाढ़ से हजारों घर प्रभावित थे

संख्यावाचक विशेषण के दो भेद होते हैं

निश्चित संख्यावाचक विशे षण

जो विशे षण विशेष्य की विशेषता निश्चित संख्या के रूप में बतलाता है उसे निश्चित संख्यावाचक विशे षण कहा जाता है

जैसे दूसरा दूसरी दो

उदाहरण

पहलवान 5:30 रोटी खाता है

राम दूसरी कक्षा में पढ़ता है