राज्य की उत्पत्ति के सिद्धान्त

राज्य की उत्पत्ति के विषय में व्यक्त किए गए मुख्य सिद्धांत निम्न है ।देवी उत्पत्ति का सिद्धांत ?? 

इस सिद्धांत के अनुसार राज्य की उत्पत्ति ईश्वर के द्वारा की गई है राधा को ईश्वर द्वारा राज्य को संचालित करने के लिए भेजा गया है। प्रजा का कर्तव्य है कि राजा का विरोध ना करें क्योंकि वह ईश्वर का प्रतिनिधि है।

मातृ एवं पितृ प्रधान सिद्धांत??

मातृ सत्तात्मक सिद्धांत राज्य की उत्पत्ति का कारण स्थाई वैवाहिक संबंधों के अभाव को मानता है परिवार का मुखिया पिता न होकर माता को मानता है संतानों को मां के नाम से जाना जाता था। जबकि पितृ सत्तात्मक सिद्धांत राज्य की उत्पत्ति का कारण पिता को मानता है जिसका मुखिया पिता होता है।कुूलों से कबीला और कबीलों से राज्य का विकास हुआ ।

सिद्धांत

शक्ति सिद्धांत ?? 

इस _सिद्धांत के अनुसार राज्य की उत्पत्ति का एकमात्र कारण शक्तिह।ै इसके अलावा युद्ध को राज्य की उत्पत्ति का कारण यह _सिद्धांत मानता है जैसा कि वाल्टेयर ने कहा है प्रथम राजा एक भाग्यशाली योद्धा था। इस _सिद्धांत के अनुसार शक्ति राज्य की उत्पत्ति का एकमात्र आधार है शक्ति का आशय भौतिक और सैनिक शक्ति से है। प्रभुत्व की लालसा और आक्रमकता मानव स्वभाव का अनिवार्य घटक है। प्रत्येक राज्य में अल्पसंख्यक शक्तिशाली शासन करते हैं और बहुसंख्यक शक्तिहीन अनुकरण करते हैं। वर्तमान राज्यों का अस्तित्व शक्ति पर ही केंद्रित है।

सामाजिक समझौता सिद्धांत?? 

सामाजिक समझौता _सिद्धांत को मानने वालों में थांमस हाब्स, जॉन लॉक, जीन जैक रूसो आदि का प्रमुख योगदान रहा। इन विचारकों के अनुसार आदिम अवस्था को छोड़कर नागरिकों ने विभिन्न समझौते किए और समझौतों के परिणाम स्वरुप राज्य की उत्पत्ति हुई।

विकासवादी सिद्धांत?? 

यह _सिद्धांत मनोवैज्ञानिक ऐतिहासिक और समाजशास्त्रीय प्रमाणों पर आधारित है इसके अनुसार राज्य न कृत्रिम संस्था है न ही देवीय संस्था है ।यह सामाजिक जीवन का धीरे-धीरे किया गया विकास है इसके अनुसार राज्य के विकास में कई तत्व जैसे कि रक्त संबंध धर्म शक्ति राजनीतिक चेतना आर्थिक आधार का योगदान है पर आज सबके हित साधन के रूप में विकसित हुआ।

सिद्धान्त सिद्धान्त

राज्य की उत्पत्ति का कौन सा सिद्धांत सर्वाधिक मान्य है?

निष्कर्ष(conclusion)राज्य की उत्पत्ति के संबंध में ऐतिहासिक या विकासवादी सिद्धांत की सर्वाधिक मान्य है, जिसके अनुसार किसी एक तत्व के द्वारा नहीं वरन् मूल सामाजिक प्रवृत्ति, रक्त संबंध, धर्म, शक्ति, आर्थिक गतिविधियां और राजनीतिक चेतना सभी के द्वारा सामूहिक रूप से राज्य का विकास किया गया है।

राज्य की उत्पत्ति के विकासवादी सिद्धांत का मुख्य प्रवर्तक कौन है?

राज्य की उत्पत्ति के विकासवादी सिद्धांत 1. रक्त सम्बन्ध- इस बात से सभी सहमत हैं कि सामाजिक संगठन का मौलिक आधार रक्त सम्बन्ध होता है। … मैकाइवर का कहना है कि, “रक्त सम्बन्ध ने समाज का निर्माण किया और समाज ने विस्तृत रूप में राज्य का।” अत: यह कहा जा सकता है कि राज्य का बीज पारिवारिक नियंत्रण में ही वर्तमान था।

राज्य की उत्पत्ति का कौन सा सिद्धांत युद्ध का समर्थन करता है?

शक्ति सिद्धांत ?? इस सिद्धांत_के अनुसार राज्य की उत्पत्ति का एकमात्र कारण शक्तिह। ै इसके अलावा युद्ध को राज्य की उत्पत्ति का कारण यह सिद्धांत_मानता है जैसा कि वाल्टेयर ने कहा है प्रथम राजा एक भाग्यशाली योद्धा था। इस सिद्धांत_के अनुसार शक्ति राज्य की उत्पत्ति का एकमात्र आधार है शक्ति का आशय भौतिक और सैनिक शक्ति से है।