1975 व 2005 में नापा जा चुका है एवरेस्ट

लोक डाउन के कारण दुनिया के सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट खाली पड़ी है। इसका फायदा उठाते हुए चीन 45 साल में तीसरी बार इसकी ऊंचाई नापेगा।

चीन ने गुरुवार को 53 वैज्ञानिकों की टीम भी भेज दी है चीन 6 बार सर्वेक्षण की कोशिश कर चुका है लेकिन दो बार सफल हो पाया।

1 पहली बार 1975 में तब ऊंचाई 8848.13 मीटर निकली था

2 दूसरी बार 2005 में तब ऊंचाई 8844.43 मीटर दर्ज की गई थी।

6500 मीटर ऊंचाई पर 5G नेटवर्क शुरू

पर्वतारोही अब माउंट एवरेस्ट पर भी हाई स्पीड 5G नेटवर्क का इस्तेमाल कर सकेंगे।

चीन ने गुरुवार को अपनी तरफ के हिस्से में बस स्टेशन से इस सुविधा को शुरू किया है।

शिन्हुआ के मुताबिक 6500 मीटर की ऊंचाई पर बना बेस स्टेशन भी शुरू हो गया है।

इसका निर्माण सरकारी टेलीकॉम कंपनी चाइना मोबाइल ने किया है।

अब क्षेत्र के पर्यावरण की निगरानी आसान हो जाएगी पर्वतारोही लाइव स्ट्रीमिंग भी कर सकेंगे।

चीन की नौसेना ने जंगी जहाज खदेड़ा तो अमेरिका ने भेज दिए बमवर्षक विमान

वैश्विक महामारी के बीच चीन की नौसेना ने दावा किया है कि उसने साउथ चाइना से अमेरिका के एक जंगली जहाज को अपने इलाके से खदेड़ दिया है। हालांकि, अमेरिका ने चीन के इस दावे का खंडन किया और अपने #बमवर्षक विमानों को साउथ चाइना सी में गश्त के लिए भेज दिए हैं।चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के प्रवक्ता सीनियर कर्नल लीहुआमिन ने कहा कि अमेरिका ने अंतरराष्ट्रीय कानूनों की धज्जियां उड़ाई हैं। अमेरिका ने सुरक्षा हितों का गंभीर उल्लंघन किया है। इससे हमारी सुरक्षा को खतरा बढ़ गया है जिससे कोरोना के खिलाफ वैश्विक लड़ाई कमजोर होगी।http://पर्वतारोही लाइव स्ट्रीमिंग

यदि आपको हमारी जानकारी पसंद आही हो तो हमे सोसल मीडिया फेसबुक टि्वटर पर फॉलो करें

और हमारी वेबसाइट पर जाकर और जानकारी प्राप्त करें धन्यवाद।